सफलता के घोड़े पर सवार मोहित

सफलता के घोड़े पर सवार मोहित
June 15 12:28 2017 Print This Article

 हरीश बाबू 

सबको मोह रहे हैं 18 वर्षीय युवा उद्यमी मोहित 

एक कहावत है कि सफलता उम्र की मोहताज नहीं होती। इस कहावत को चरितार्थ किया है रीवा के 18 वर्षीय युवा उद्यमी मोहित कुमार त्रिपाठी ने। यूं तो 40-50 के सफल बिज़नेसमैन की सफलता की कहानियाँ तो आप ने बहुत सुनी होंगी, लेकिन हम आज आप को एक ऐसे युवा उधमी के बारें में बताने जा रहें है, जिसने मात्र 18 वर्ष की उम्र में ही अनेक उपलब्धियां व सफलताएं हासिल की हैं। रीवा में पले-बढ़े मोहित ने वहीं के ज्योति सीनियर सेकेंडरी स्कूल से शिक्षा पूरी की और वर्तमान में राधारमण इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी (भोपाल) से कंप्यूटर साइंस एंड इंजीनियरिंग ब्रांच से बैचलर ऑफ़ इंजीनियरिंग की पढाई कर कर रहे हैं।
मोहित कुमार त्रिपाठी पेशे से एक जूनियर साइंटिस्ट, मैजिशियन, वेब डेवलपर, साइबर एक्सपर्ट, डिजिटल मार्केटिंग एक्सपर्ट, कीनोट स्पीकर, बिज़नेस ट्रेनर एवं ब्लॉगर हैं। इन्हें इनके कार्यों के लिए कई राष्ट्रीय स्तर के सम्मानों व पुरस्कारों से सम्मानित भी किया जा चूका है। यही नहीं मोहित एक जादूगर भी हैं और वो इस कला का प्रयोग लोगों के बीच अन्धविश्वास को ख़त्म करने के लिए कर रहे हैं। वर्तमान में मोहित द्वारा वेलवीश कॉर्पोरेशन के तहत 5 उद्यमों का संचालन किया जा रहा हैं तथा वे विभिन्न सरकारी, गैर-सरकारी (नॉन-प्रॉफिट संगठनों) के साथ एक रिसोर्स पर्सन के रूप में जुड़कर भी काम कर रहे हैं।

यह है मोहित की सफलता का राज
मोहित एक मध्यवर्गीय परिवार से हैं और स्कूल दिनों से ही नया सीखने की तीव्र इच्छा ने उन्हें इस मुकाम तक पहुंचा दिया है। नया सीखने की इच्छा के चलते ही वे बचपन से ही शिक्षकों, किताबों, इंटरनेट आदि की मदद से हमेशा कुछ न कुछ नया सीखते रहते हैं और अपने ज्ञान को बढ़ाते रहते हैं। अपने स्कूली जीवन के दौरान वह स्कूल, जिला, राज्य और राष्ट्रीय स्तर पर आयोजित विभिन्न प्रतियोगिताओं में नियमित रूप से विजेता भी रहे। उसी दौरान उन्होंने इको फ्रेंडली साइंस सोसाइटी ऑफ़ इंडिया का संचालन भी किया, जिसके अंतर्गत लगातार 5 वर्षो तक वैज्ञानिक दृष्टिकोण बनाने, सभी के लिए विज्ञान को सामान्य बनाने, राष्ट्रीय विकास के लिए वैज्ञानिक ज्ञान का उपयोग करने, समाज के कल्याण के लिए और विज्ञानं एवं प्रौद्योगिकी के प्रति बच्चो में उत्साह पैदा करने के लिए काम किया।
मोहित के पिता जी एस.के. त्रिपाठी ने हमेशा से ही उसके कार्यो और विचारों पर भरोसा किया और मोहित का समर्थन बनाये रखा, इसी कारण से मोहित इस मुकाम तक पहुंच पाये हैं। मोहित को इतना सब करने के लिए बिल गेट्स, स्टीव जॉब्स व मार्क जुकरबर्ग से प्रेरणा मिली है।

मोहित इस समय वेल्विष कारपोरेशन के नाम से 5 उद्यमों का संचालन कर रहें हैं –
1) वेल्विष इंफोटेक – मोहित व उनकी टीम द्वारा वेलवीश इन्फोटेक की शुरुआत वर्ष 2015 में की गयी थी, जो की वर्तमान में मध्य भारत में सबसे तेजी से बढ़ती आईटी कंपनियों में से एक है। इसके साथ ही 300 से अधिक ग्राहकों को देश भर में सेवाएं प्रदान कर रहीं है। वेलवीश इन्फोटेक टीम में 10 से अधिक वे उच्च प्रशिक्षित प्रोफेशyaनल्स शामिल हैं, जिनके द्वारा वेब डिज़ाइनिंग व डेवलपमेंट, ब्रांडिंग व क्रिएटिव, डिजिटल मार्केटिंग और बिज़नस सॉल्यूशंस जैसी सेवाएं प्रदान की जाती है एवं हाल ही में वेल्विष इंफोटेक को मध्य प्रदेश सरकार द्वारा आई.टी. अवार्ड द्वारा नवाज़ा भी गया था।

2) वेल्विष फाउंडेशन – वेलवीश फाउंडेशन भारत सरकार के विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग विज्ञान प्रसार द्वारा मान्यता प्राप्त एक स्वैच्छिक संगठन है जो अल्पसंख्यक बच्चों, स्कूल / कॉलेज / विश्वविद्यालय के छात्रों और आम जनता पर ध्यान केंद्रित करते हुए समाज के समस्त विकास के लिए काम कर रही है। इसका संचालन 2010 से किया जा रहा है और पूर्व में यह इको फ्रेंडली साइंस सोसाइटी ऑफ़ इंडिया के नाम से जानी जाती थी। वेल्विष फाउंडेशन द्वारा निरंतर सोशल इवेंट्स, कार्यशाला, प्रशिक्षण कार्यक्रम आदि आयोजित किये जाते है।

3) वेल्विष एस.एम.एस – वेलवीश एस.एम.एस एक बल्क मेसेजिंग सर्विस प्रोवाइडर फर्म है जो की वर्तमान समय में 1000 से अधिक व्यवसाय, कॉलेज, स्कूल, अस्पताल, आदि में अपनी सेवायें प्रदान कर रही है।

4) रीवा सिटी इन्फो – रीवा सिटी इन्फो (रीवा शहर का प्रथम लोकल सर्च इंजन) एक ऑनलाइन डायरेक्टरी है, जिसके माध्यम से रीवा शहर की सम्पूर्ण जानकारियाँ प्राप्त की जा सकती है। जैसे – रीवा सिटी गाइड, टेलीफोन निर्देशिका, सरकारी विभाग, पर्यटक स्थल, स्कूल, अस्पताल, दुकान, कॉलेज, कूरियर, एटीएम, बैंक, सिनेमाघरों, रेस्टोरेंट, होटलों आदि। रीवा सिटी इन्फो ने वर्ष 2015 में “इम्प्रूवमेंट इन सिटीजन सर्विस डिलीवरी, गवर्नेंस थ्रू यूज ऑफ़ आई.टी. वर्ग में “अवार्ड फॉर एक्सेलेंस इन ई-गवर्नेंस इनिशिएटिव” जीता था, जो की मध्य प्रदेश एजेंसी फॉर प्रमोशन ऑफ़ इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी (मध्य प्रदेश सरकार) द्वारा हर वर्ष श्रेष्ठ परियोजनाएं को दिया जाता है।

5) रीवा सिटी फ़ूड – रीवा सिटी फूड रीवा शहर में सही खाने की ज़रूरत को पूरा करने के लिए एक विनम्र प्रयास है जिसके अंतर्गत “ग्रीन टिफ़िन” की सेवाएं प्रदान की जाती है जिसमे पोषण, शेष आहार, स्वच्छता और स्वाद को ही प्राथमिकता दी जाती है। रीवा सिटी फ़ूड का लक्ष्य उचित लागत पर रीवा को “स्वस्थ और खुश” बनाने का है।

पूरी वर्किंग टीम है युवा

फिलहाल वेल्विष की टीम में 50 से ज्यादा लोग हैं, जिसमें वैभव चातुर्वेदी (कोफाउंडर), रोहित त्रिपाठी (कोफाउंडर), अभिकेश शुक्ला, योगेंद्र द्विवेदी, अभिषेक श्रीवास्तव, बीरेंद्र साहू, पवन कुमार तिवारी, वेदांत तिवारी, सुजाता त्रिपाठी, सुप्रिया त्रिपाठी, आदि कंपनी के महत्वपूर्ण कार्यों का प्रबंधन कर रहे हैं।

मिल चुके कई अवार्ड

मोहित को सुचना प्रौद्योगिकी एवं विज्ञान के क्षेत्र में उनके द्वारा किये गए कार्यों के लिए कई पुरस्कारों द्वारा सम्मानित भी किया जा चूका है, जिसमें मैपिट आईटी अवार्ड (2015), यंगेस्ट इंटरप्रेन्योर अवार्ड (2014), राष्ट्रीय बाल पुरस्कार (2013), ग्लोबल मानवतावादी प्रौद्योगिकी पुरस्कार (2012 एवं 2013), जूनियर वैज्ञानिक पुरस्कार (2010) आदि शामिल है।

अभी कोई कमेन्ट नही!

कमेन्ट लिखें

Your data will be safe! Your e-mail address will not be published. Also other data will not be shared with third person.
All fields are required.