सार्वजनिक क्षेत्र के प्रतिष्ठानों को बचाना हमारी पहली प्राथमिकता- विरजेश उपाध्याय

सार्वजनिक क्षेत्र के प्रतिष्ठानों को बचाना हमारी पहली प्राथमिकता- विरजेश उपाध्याय
March 16 15:37 2019 Print This Article

BHEL – भोपाल। भारतीय मजदूर संघ से संबंध पब्लिक सेक्टर एम्पलाइज नेशनल कंफिडरेशन का त्रैवार्षिक अधिवेशन दिनांक 15 से 16 मार्च को भेल भोपाल महात्मा गांधी चौराहा बीएमएस कार्यालय जुमड़े भवन में चल रहा है। जिसमे मुख्य अतिथि के रूप में श्री विरजेश उपाध्याय जी राष्ट्रीय महामंत्री बीएमएस पूरे समय उपस्थित रहे। यूनियन के उपाध्यक्ष सतेंद्र कुमार ने बताया कि अधिवेशन में देशभर के 43 सार्वजनिक प्रतिष्ठान से 153 प्रतिनिधियों ने भाग लिया।

BMS bhopal 15 march 2019

इस अवसर पर विरजेश उपाध्याय ने अपने उद्घाटन भाषण में सार्वजनिक क्षेत्र की समस्त समस्याओं को चिन्हित कर उन्हें सतत आंदोलन से ही हल किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि प्रचलित ट्रेड यूनियन आंदोलन पुरानी परिपाटी पर चल रहा है जो कि औचित्य हीन हो चुकी है। भारतीय मजदूर संघ मानता है कि जब तक हम आंदोलन को सामाजिक आंदोलन नहीं बनाएंगे तब तक समाज का श्रमिकों के प्रति सहानुभूति नहीं होगी।

उन्होंने बताया कि ट्रेड यूनियन के लोगों को ही पता नहीं है कि वास्तव में आज ट्रेड यूनियन की समस्या क्या है? समाधान कैसे होगा? ट्रेड यूनियन एक्ट 1926 में बना आज इस दौर में मुद्दे बदल गए मगर हम वहीं अटके हुए हैं अब समस्या समझी जा रही है कि संविदा श्रमिकों को स्थाई पदों पर नियुक्ति कर उनका शोषण हो रहा है। मगर अभी रोबोट टेक्नोलॉजी लाई जा रही है। जिससे उद्योगों से श्रमिक ही नहीं रहेंगे तो श्रमिक आंदोलन का क्या अस्तित्व रह जाएगा।

BMS bhopal 15 march 2019

देश का श्रमिक आंदोलन विभाजित है इस कारण वास्तविक लड़ाई नहीं लड़ी जा रही है। भारत विश्व का दूसरा सबसे बड़ी आबादी वाला देश है जिसमें मानव श्रम शक्ति बहुतायत है। श्री उपाध्याय ने कहा कि उद्योगपति सभी पार्टियों को चंदा देते हैं और जो भी सरकार आएगी तो सबसे पहले उद्योगपतियों को ही सुनेगी श्रमिकों को नहीं। अतः श्रम आंदोलन को सामाजिक आंदोलन बनाना होगा। राजनीतिक दल अगर भाषा समझते हैं तो वोट की भाषा को समझते हैं। भारतीय मजदूर संघ एक गैर राजनीतिक संगठन है जो श्रमिको का श्रमिको के लिए श्रमिको द्वारा संचालित है।

कार्यक्रम में गोकुलानंद जैना राष्ट्रीय मंत्री, के पी सिंह, अमरनाथ डोगरा, एन अंगुस्वामी, जगदीश बाजपेई, सच्चिदानंद गणनायक केंद्रीय पदाधिकारी मार्गदर्शन हेतु विशेष रूप से उपस्थित रहें। 16 मार्च के अधिवेशन में अगले 3 वर्ष हेतु नई कार्यसमिति का चयन किया जाएगा। कार्यक्रम में भेल, एनटीपीसी, एनएचपीसी, एनएचडीसी, टीएचडीसी, गेल, इंडियन ऑयल, भारत पेट्रोलियम, ऑल इंडिया, एयरपोर्ट अथॉरिटी, बीएसएनएल, एमटीएनएल बीईएल, एचएएल, इसीआईएल, आईआरईएल, ओएनजीसी, वामन लारी, एलिम्को, आईटीआई, स्कूटर इंडिया बीईएल, एनसीएल, नाल्को, आरईसी, पावर ग्रिड, एफसीआई, एनएमडीसी, हिंदुस्तान पेट्रोलियम प्रमुख रूप से भाग लिया।

BMS bhopal 15 march 2019

आयोजक के रूप में हेवू – बीएमएस के अध्यक्ष विजय सिंह कठैत, महामंत्री कमलेश नागपुरे, अनिल कुमार, विजय सिंह रावत, रोहित कुमार, रमेश कुराड़िया, प्रदीप अग्रवाल, रामनंदन सिंह, धर्मेन्द्र कुमार, गजेंद्र बंछोड, शिशुपाल यादव, इमरान अली, जगदीश मालवीय, संजय चौधरी, अमित साहू, अमन वर्मा एवं भारी संख्या में कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

अभी कोई कमेन्ट नही!

कमेन्ट लिखें

Your data will be safe! Your e-mail address will not be published. Also other data will not be shared with third person.
All fields are required.