शिक्षक पात्रता परीक्षा में अभियर्थियों को मिलेगी 5 प्रतिशत की छूट!

शिक्षक पात्रता परीक्षा में अभियर्थियों को मिलेगी 5 प्रतिशत की छूट!
February 24 21:42 2019 Print This Article

Teacher- By हरीश बाबू

भोपाल। प्रोफेशनल एग्जामिनेशन बोर्ड (पी. ई. बी.) की संपन्न हो चुकी उच्च माध्यमिक शिक्षक पात्रता परीक्षा 2018 परीक्षार्थियों के लिये राई का पहाड़ बन गया है। परीक्षार्थियों ने पहाड़ की चोटी पर चढ़ने के लिये कदम बढ़ाया और औंधे मुँह गिर पड़े। शिक्षक पात्रता परीक्षा का कठिन स्तर, आउट ऑफ़ सिलेबस और स्नातक स्तर से भी ऊपर के सवालों से कई परीक्षार्थियों को पास होने के भी लाले पड़ गए हैं। ऐसे में एससी, एसटी, ओबीसी और निःशक्त व्यक्तियों के अभियर्थियों के लिये नये गजट प्रकाशन ने कंफ्यूजन भी पैदा कर दिया।

MP vyapam

जनजातीय कार्य विभाग मंत्रालय द्वारा मध्य प्रदेश जनजातीय एवं अनुसूचित जाति शिक्षण संवर्ग सेवा एवं भर्ती नियम 2018 में संसोधन करते हुये यह उल्लेख किया है कि एससी, एसटी, ओबीसी और निःशक्त व्यक्तियों के अभियर्थियों को अर्हताकारी अंकों में 5 प्रतिशत की छूट दी जाएगी।

इस गजट नोटिफिकेशन की खबर के बाद से पूरे प्रदेश के उच्च माध्यमिक शिक्षक पात्रता परीक्षा में शामिल हुये कैटेगरी अभियर्थियों में कंफ्यूजन भी पैदा हो गया था । अभियर्थिओं को लगा की उन्हें शिक्षक पात्रता परीक्षा में विशेष छूट दी जा रही है। जबकि जनजातीय विभाग की लेटलतीफी की वजह ऐसा हुआ। इस कंफ्यूजन ने उनके लिये एक नई उम्मीद जगा दी थी, जो की कोरी साबित हुई।

PEB

दरअसल उच्च माध्यमिक शिक्षक पात्रता परीक्षा 2018 के आवेदन भरते समय इस नियम को सम्मिलित नहीं किया गया था। उसे ही अभी संसोधन के बाद गजट में प्रकाशित किया गया। लेकिन विभाग की लेटलतीफी की वजह से कई पात्र उम्मीदवार आवेदन ही नहीं कर पाये। शिक्षक वर्ग -1 की परीक्षाएं 11 फरवरी को ख़त्म हो गई थी। वहीं 16 फरवरी से शिक्षक वर्ग -2 की भी परीक्षाएं शुरू हो चुकी हैं। यहीं संसोधन आवेदन के समय हो जाता तो कुछ और उम्मीदवार आवेदन कर सकते थे और अपने भाग्य को आजमा सकते थे।

Gajat Notification Teachers Eligible Test  Gajat Notification Teachers Eligible Test

गजट नोटिफिकेशन के बाद एससी, एसटी, ओबीसी और निःशक्त व्यक्तियों को सच्चाई पता चलने के बाद स्थिति साफ हो गई है। उधर पीईबी में विषय विशेषज्ञ समिति द्वारा आउट ऑफ़ सिलेबस और स्नातक स्तर से भी ऊपर के सवालों पर भी विचार किया जाएगा। इनके नंबर सभी वर्गों के अभियर्थियों को दिये जायेंगे। बोर्ड कमिटी के इस निर्णय से ज्यादातर अभियर्थी परीक्षा में उत्तीर्ण हो सकते है और उनका शिक्षक बनने का सपना पूरा हो सकता है।

ज्ञात हो कि पीईबी द्वारा शिक्षक संवर्ग-1 परीक्षा 9 दिन में 17 पालियों में आयोजित की गई थी। इसमें 1,89,800 आवेदकों ने भाग लिया था। परीक्षा में औसतन 83 प्रतिशत उपस्थिति दर्ज की गई। जबकि पीईबी द्वारा 2,29,600 आवेदकों के लिये प्रवेश पत्र जारी किये गये थे।

Gajat Notification Teachers Eligible Test  Gajat Notification Teachers Eligible Test

पीईबी निर्देशों का पालन करने के लिये बाध्य

गजट नोटिफिकेशन में प्रकाशित मध्य प्रदेश जनजातीय एवं अनुसूचित जाति शिक्षण संवर्ग सेवा एवं भर्ती नियम 2018 में संसोधन को ध्यान में रखते हुये ही रिजल्ट जारी करेगा। पीईबी सेवा एवं भर्ती नियम 2018 में किये गये संसोधनों को पालन करने के लिये बाध्यकारी है। पीईबी को सम्बंधित विभाग द्वारा संसोधित भर्ती नियम उपलब्ध कराये जायेंगे पीईबी उसी के अनुरूप ही परिणाम जारी करेगी। पीईबी के पास अभियर्थियों द्वारा आउट ऑफ़ सिलेबस और स्नातक स्तर से भी ऊपर के सवालों की आपत्तियां भी प्राप्त हुई हैं बोर्ड कमिटी द्वारा निराकरण किया जायेगा। उसी के अनुरूप नंबर भी बढ़ाये जायेंगे। इससे सभी वर्गों के परीक्षार्थियों को लाभ पहुंचेगा।

डॉ. विशाल जोशी, जनसम्पर्क अधिकारी, प्रोफेशनल एग्जामिनेशन बोर्ड, भोपाल

अभी कोई कमेन्ट नही!

कमेन्ट लिखें

Your data will be safe! Your e-mail address will not be published. Also other data will not be shared with third person.
All fields are required.